गौतम अडाणी दुनिया के तीसरे सबसे अमीर व्यक्ति बने

भारत के गौतम अडाणी दुनिया के तीसरे सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। उन्होंने फ्रांस के कारोबारी और निवेशक बर्नाड अरनॉल्ट को पीछे छोड़ दिया है और उनकी अनुमानित संपत्ति करीब 137.4 अरब डॉलर (लगभग 10,970 अरब रुपये) है।अब वह केवल अमेरिका के एलन मस्क और जेफ बेजोस से पीछे हैं जो क्रमशः पहले और दूसरे स्थान पर हैं।अडाणी दुनिया के तीन सबसे अमीर लोगों में शामिल होने वाले एशिया के पहले व्यक्ति भी बन गए हैं।

वृद्धि

2022 में लगभग 61 अरब डॉलर बढ़ी अडाणी की संपत्ति बलुम्बर्ग की रिपोर्ट के अनुसार, अडाणी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडाणी की संपत्ति में अकेले 2022 में 60.9 अरब डॉलर की वृद्धि हुई है जो अन्य किसी भी कारोबारी से पांच गुना अधिक है।अडाणी इस साल फरवरी में ही रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ भारत और एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बने थे।इसके बाद उन्होंने पिछले महीने बिल गेट्स को भी पीछे छोड़ दिया और दुनिया के चौथे सबसे अमीर व्यक्ति बन गए।

कारोबार

अलग-अलग कई क्षेत्रों में फैला है हुआ है गौतम अडाणी का कारोबार उनकी सम्पत्ति साल 2021 की तुलना में गौतम अडाणी की संपत्ति दोगुनी से ज्यादा हो गई है। उनका कारोबार इंफ्रास्ट्रक्चर, बिजली, हरित ऊर्जा, गैस और बंदरगाहों तक फैला हुआ है।उनका लक्ष्य दुनिया का सबसे बड़ा हरित ऊर्जा उत्पादक बनने का है और अक्षय ऊर्जा परियोजनाओं पर वे करीब 70 अरब डॉलर का निवेश करने जा रहे हैं।हालिया वर्षों में उन्होंने कोयला कारोबार और बंदरगाहों के क्षेत्र में बड़ा विस्तार किया है और वे सबसे बड़े निजी बंदरगाह के मालिक हैं।

मीडिया

न्यूज मीडिया में भी सक्रिय हुआ अडाणी ग्रुप हालिया समय में अडाणी ग्रुप न्यूज मीडिया में भी तेजी से सक्रिय हुआ है।इसी महीने उसने विश्वप्रधान कॉमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (VCPL) के जरिए न्यू दिल्ली टेलीविजन (NDTV) के 29.18 प्रतिशत शेयर अपने नाम किए हैं और 26 प्रतिशत शेयर खरीदने के लिए ओपन ऑफर भी दिया है। अगर वो इतने शेयर खरीदने में कामयाब रहते हैं तो NDTV के सबसे बड़े शेयर होल्डर बन जाएंगे।इससे पहले उसने राघव बहल के क्विंटिलियन मीडिया में भी 49 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी।

सवाल

सवालों के घेरे में भी रही है अडाणी की संपत्ति में वृद्धि अडाणी की संपत्ति में इस तेज वृद्धि पर कई सवाल भी उठे हैं। दरअसल, उनकी संपत्ति में मुख्य वृद्धि नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद हुई है। मोदी और अडाणी दोनों करीबी माने जाते हैं और मोदी सरकार पर अडाणी को तरजीह देने का आरोप है।इसके अलावा अडाणी पर संपत्ति के मुकाबले कई गुना अधिक कर्ज है और इस पर भी सवाल उठे हैं।ऑस्ट्रेलिया में मिले कोयला खनन के ठेके कारण भी अडाणी विवादों में रहे थे। अभी अडाणी दुनिया के तीसरे सबसे अमीर आदमी है।

पढ़े खबरें इंग्लिश में क्लिक करे >>>>>

पढ़े आज की ताज़ा खबरें हिंदी में क्लिक करे >>>>>

Leave a comment

Your email address will not be published.